इन पांच चीजों को खाने से आपके बच्चे का दिमाग घोड़े से भी तेज चलेगा !

बच्चों का दिमाग तेज हो ऐसी चाहत हर माँ-बाप की होती है, और कही न कही इसके लिए वो काफी कुछ करते भी है ताकि उनके बच्चे का दिमाग तेज हो सकें, लेकिन आज के लेख में हम कुछ ऐसे खाने की चीजों के बारे में बताएंगे जिसको अपनाने मात्र से आपके बच्चे का दिमाग तेज हो सकता है, तो चलिए जानते है की वो ऐसे कौन-से उपाय है;

कैसे बनाए बच्चों के दिमाग को तेज ?

  • बच्चों के दिमाग को तेज करने की शुरुआत हम उनके बचपन से ही कर सकते है और इसके लिए आपको उनके बचपन में वो सब चीजे शामिल करनी चाहिए जो उनको अच्छे से पोषण दे सकें और उनके दिमाग की शक्ति को बढ़ा सकें। 
  • इसके अलावा आप अपने बच्चे को प्रेरित करें की वो हर स्कूल की एक्टिविटी में शामिल हो। 
  • अपने बच्चे को कोशिश करें की वो ऑलराउंडर हो हर चीज में।  
  • बच्चे के दिमाग को तेज करने के लिए आप उनके साथ दिमागी खेल भी खेल सकते है जैसे, शतरंज आदि।

आपका बच्चा मानसिक रूप से मजबूत बन सकें इसके लिए आपको चाहिए की आप लुधियाना में बेस्ट न्यूरोलॉजिस्ट से सलाह लें।

कौन-सी पांच चीजे खाने से बच्चे का दिमाग होगा घोड़े से भी तेज ?

  • सबसे पहले तो आप अंडे को बच्चे की डाइट में शामिल करें खास कर ग्रोइंग एज के बच्‍चों की डाइट में, ऐसा इसलिए क्युकी अंडे में मौजूद विटामिन्‍स, कैल्शियम, प्रोटीन ब्रेन डेवलपमेंट के लिए बहुत ही जरूरी है, वहीं जब बढ़ते बच्‍चों के‍ दिमाग को भरपूर विटामिंस मिलता है तो उनका दिमाग तेज से काम करने लगता है। 
  • अलसी और कद्दू के बीज को भी दिमाग के स्वास्थ्य के लिए बेहतरीन माना जाता है, कद्दू और अलसी के बीजों में जिंक के साथ ही मैग्नीशियम, विटामिन बी भरपूर मात्रा में होते है, जिससे मानसिक क्षमताएं विकसित होती है और बच्चों की याददाश्त में भी इजाफा होता है। 
  • रोजाना बच्चे को दही देना भी उसके अच्छे दिमाग के लिए काफी सहायक माना जाता है, इसलिए जरूरी है की आप अपने बच्चे के आहार में दही को जरूर शामिल करें। 
  • अगर आप मांसाहारी है तो अपने बच्चे की मेमोरी बढ़ाने के लिए उनको मछली का सेवन कराए, वहीं बचपन से हम और आप सुनते आ रहे है कि मछली खाने से दिमाग अच्‍छा होता है, दरअसल मछली में बहुत मात्रा में विटामिन डी और ओमेगा 3 होता है जो बढ़ते बच्‍चों के मेंटल डेवलपमेंट के लिए बहुत मददगार साबित होता है। 
  • अखरोट और अन्य ड्राई फ्रू्ट्स आपके दिमाग के लिए सुपर फूड माना जाता है, वहीं अखरोट अल्फा-लिनोलेनिक एसिड और पॉलीफेनोलिक कंपाउंड्स से भरपूर होता है। ओमेगा-3 फैटी एसिड और पॉलीफेनोल्स दोनों को ही बेहद अहम ब्रेन फूड माना जाता है क्योंकि ये दोनों ऑक्सीडेटिव तनाव से लड़ने का काम करते है।
  • बचपन की अवस्था होती ही इतनी नाजुक है, और अक्सर इसी अवस्था में खेल कूद में बच्चों को चोट लग जाती है लेकिन कई बार चोट इतनी गंभीर होती है की उनके दिमाग पर गहरा असर छोड़ती है, जिससे उनका दिमाग तेज चलना बंद हो जाता है इसलिए बचपन की अवस्था में अपने बच्चे का खास ध्यान रखें और दिमागी चोट होने पर जल्द लुधियाना में बेस्ट न्यूरोसर्जन के पास आए।

सुझाव :

अगर दिमागी चोट के कारण आपके बच्चे का दिमाग ठीक से नहीं चल पा रहा तो इसके लिए आप जल्द डॉक्टर के संपर्क में आए। और ऐसी दिमागी चोट के इलाज के लिए आपको न्यूरो सिटी हॉस्पिटल का चयन करना चाहिए। 

निष्कर्ष :

उम्मीद करते है की आपको पता चल गया होगा की आप किस तरह से अपने बच्चे का दिमाग तेज कर सकती है बस इसके लिए जरूरी है की आप उपरोक्त डाइट को फॉलो करें और समय-समय आप अपने बच्चे के दिमाग की जाँच को भी करवाते रहें ताकि उनके शरीर या दिमाग में किसी तरह की कोई परेशानी उत्पन्न न हो सकें।

Send Us A Message

    क्या मिर्गी महिलाओं में गर्भावस्था को प्रभावित कर सकती है?
    EpilepsyHindi

    क्या मिर्गी महिलाओं में गर्भावस्था को प्रभावित कर सकती है?

    • April 17, 2024

    • 295 Views

    एक वक्त में कहा जाता था कि मिर्गी से पीड़ित महिलाए, कभी…

    मस्तिष्क में अवरुद्ध धमनियाँ या स्ट्रोक के क्या है कारण, लक्षण जोखिम कारक और उपचार के तरीके ?
    Neurologist

    मस्तिष्क में अवरुद्ध धमनियाँ या स्ट्रोक के क्या है कारण, लक्षण जोखिम कारक और उपचार के तरीके ?

    • April 12, 2024

    • 3060 Views

    मस्तिष्क में अवरुद्ध धमनियां, जो अक्सर स्ट्रोक का कारण बनती है, एक…

    सिर दर्द के प्रकार और घरेलु उपायों को जानकर हम कैसे इससे छुटकारा पा सकते है ?
    HeadacheHindi

    सिर दर्द के प्रकार और घरेलु उपायों को जानकर हम कैसे इससे छुटकारा पा सकते है ?

    • April 8, 2024

    • 2595 Views

    सिरदर्द एक आम बीमारी है जो हमारे दैनिक जीवन को बाधित कर…